Process Definition, Process Scheduling, and Cooperating Processes in Operating System in Hindi

Definition of Process ( प्रोसेस की परिभाषा ):

Process, उस computer program को कहते हैं जिसका processor के द्वारा execution किया जा रहा है। जिसे अन्य शब्दों में instance of a program भी कह सकते हैं। 

Operating system के द्वारा अनेक program execution के लिए processor को भेजे जाते हैं जिन्हें उसके priority और निर्धारित scheduling के अनुसार उन्हें process करता है। Processing इस बात पर निर्भर करता है कि operating system किस program के execution को पहले चाहता है वह उसी आधार पर process programs के लिए priority set करता है। 

हम जानते हैं कि निर्देशों के समूह को computer program कहते हैं और इन्हीं computer program के मदद से सभी प्रकार के computer software तैयार किया जाता है। इन्हीं software program को कार्य करने के लिए process की आवश्यकता होती है। 

definition of process in operating system
Work of process

यह एक छोटा सा background प्रक्रिया है जो आपके system में operating system के खुलने के साथ लगातार चलता रहता है।

What is Process Scheduling (प्रोसेस निर्धारण क्या है ) ?

यह multiprogramming operating system का एक भाग होता है। वर्तमान में processor की कार्य क्षमता एवं गति काफी अधिक हो गई है और यदि हम उसके सम्पूर्ण क्षमता (शक्ति) का उपयोग करना चाहते हैं तो उससे nanosecond के अंतर से कई program process कराना होगा। 

यह कार्य multiprogramming operating system के द्वारा किया जाता है वह वर्तमान में process हेतु आवश्यक अलग-अलग program को nanosecond में schedule निर्धारित करके processor को दे देता है। इस प्रकार processing का निर्धारण करने से processor के idle process को रोका जा सकता है।

Read Also - Multi-Threading क्या है ? | Operating System in Hindi

अन्य प्रकार से process scheduling को परिभाषित करें तो यह इसलिए आवश्यक होता है क्योंकि Computer प्रणाली के devices के लिए दिये जाने वाले कार्यों की अनुसूची operating system तैयार करता है। Operating system यह निर्णय लेता है कि किस device का उपयोग कब करना है। CPU scheduling cycle को निम्न diagram में समझ सकते हैं:

Process Scheduling in operating system

उपरोक्त diagram में circle में queue को दर्शाया गया है। square के द्वारा उस queue को उपलब्ध कराने वाले resource को दर्शाया गया है और arrow के द्वारा process के flow को दर्शाया गया है।

What is Cooperating Processes (सहयोग प्रक्रिया क्या है) ?

सामान्यतः process स्वतंत्र होता है वह किसी अन्य process पर निर्भर नहीं रहता, और ये स्वतंत्र process किसी अन्य स्वतंत्र process के बीच किसी प्रकार का data share भी नहीं करते। लेकिन कुछ विशेष परिस्थितियों में process एक दूसरे के साथ cooperate (समझौता) करती है।

इसे उपभोक्ता और उत्पादनकर्ता के उदाहरण से समझते हैं जैसेः उत्पादनकर्ता, किसी उत्पाद (product) का उत्पादन तभी करता है जब उपभोक्ता द्वारा उस उत्पाद को उपभोग कर लिया जाता है। इसलिए दोनों प्रकार processing के बीच synchronization (तालमेल) होना आवश्यक है। इस प्रकार के processing के निम्न लाभ है:

Information Sharing:

कभी-कभी ऐसी परिस्थिति उत्पन्न हो जाती है जब अनेक उपयोगकर्ता एक ही जानकारियों को एक दूसरे से बॉटना चाहते हैं ऐसी स्थिति में operating system की यह जिम्मेदारी होती है कि वह उसके processing को आपस में एक से अधिक उपयोगकर्ता को उपलब्ध कराएं।

User Requirement:

जब कोई उपयोगकर्ता किसी विशेष उद्देश्य की प्राप्ति के लिए अनेक processing को एक साथ share करते हुए चलाना चाहता है।

User convenience:

Computing में एक pipe structure निर्धारित होता है जिसमें एक साथ कई तत्वों को जोड़कर रखा जाता है जैसे: C programming में उपयोग होने वाले statement 'stdin' और 'stdout' को एक साथ उपयोग किया गया है तो उपयोगकर्ता की सुविधा को देखते हुए दोनों प्रकार की processing को साथ-साथ किया जाता है।

Computation Sharing:

कभी-कभी कुछ ऐसी बड़ी गणनाएं होती है जिन्हें छोटे-छोटे टुकड़ों में बाँटकर किया जाता है इससे गणना तेजी से होती है। इसलिए इस प्रकार के गणनाओं को आपस में shared करना आवश्यक होता है।

PDF Notes Operating System PDF Notes Download Download PDF

Post a Comment

0 Comments

Youtube Channel Image
Rkonline | Learn Programming Language Subscribe To watch more Blogging Tutorials
Subscribe