Process Model in Operating System and its 5 states and Transitions | Operating System

प्रोसेस मॉडल क्या है ?

Computer system में operating system को इस प्रकार design किया जाता है कि वह एक single processor से ही एक साथ एक से ज्यादा कार्य करा सके। Processor से इसी प्रकार एक से अधिक कार्य कराने की कला को process model कहते हैं। 

Processor के निम्न प्रकार के कार्य को process model कहेंगेः 

  • यदि operating system को एक ही उपयोगकर्ता चला रहा है तो भी processor अनेक program को execute करते रहता है।
  • Processor के द्वारा execute हो रहे सभी जानकारियों को छिपा दिया जाता है। 
  • इसमें processor एक से अधिक program simultaneously (एक साथ) execute करता रहता है।

प्रोसेस मॉडल का कार्य ( Work of Process model )

यदि process के लिए एक साथ तीन program है तो processor उन program के processing को निम्न प्रकार manage करेंगाः

Process model in operating system | Work of process model

उपरोक्त चित्र में तीन programs किस प्रकार process हो रहे है इसे दर्शाने का प्रयास किया गया है। यहाॅ process एक के बाद एक होता है और तब तक चलता रहता है जब तक program का अंतिम statement process न हो जाये।

5 State of Process Model

Process model के निम्न 5 state होते हैं जो इस प्रकार हैं :

  1. New
  2. Ready
  3. Running
  4. Waiting
  5. Exit

Process States and Transitions :

Computer system में program की processing होती है तो उसकी स्थिति (state) भी बदलता जाता है। जब भी कोई program processing के लिए enter करती है तो वह processor के विभिन्न memory से गुजरते हुए process queue में पहुँच जाता है जहाँ से वह process schedule के अनुसार कुछ-कुछ समय अंतराल में process होता चला जाता है। Process के state को निम्न चित्र में समझते हैं:

Process states and transitions

उपरोक्त चित्र में दिये गये states निम्न प्रकार से कार्य करते है

1) New:

इस state में process बनता है।

2) Ready:

इस state में processor execution की तैयारी करता है और वह तब तक wait करता है जब तक कि local operating system के द्वारा उसे execution के लिए process time न दे दिया जाये।

3) Running:

इस state में processor execution आरंभ करता है और वह तब तक execute करते रहता है जब तक कि operating system के द्वारा अन्य program को processing के लिए उसे न दे दिया जाए।

4) Waiting:

इस state में processor तब पहुँचता है जब वर्तमान program के processing को आगे बढ़ाने के लिए किसी प्रकार के user input/output operation की आवश्यकता होती है। जब ऐसा होता है तो processor तब तक idle state में चला जाता है और जैसे ही input प्राप्त होते हैं वह processing को आगे बढ़ाता है।

5) Exit:

जब execution पूर्ण हो जाता है तो program इस state में प्रवेश करता है। इस state में program terminate हो जाता है।

Process State transmission:

Program का execution के लिए enter होने और निम्न तीन state में process होता है transmission कहते हैं:

Ready to running:

Scheduling के अनुसार process के लिए program इस ready state से running state में प्रवेश करता है।

Running to waiting:

जब processor को किसी प्रकार के input की आवश्यकता होती है और वह उसे प्राप्त नहीं हुआ है तो वह running से waiting state में प्रवेश करता है।

Waiting to ready:

जिस प्रकार के input का processor wait करता रहता है वह उसे प्राप्त हो जाता है तो वह आगे के process के लिए पुनः ready state में program को ले जाता है।

Running to ready:

जब processing के लिए एक से अधिक program operating system के द्वारा उपलब्ध कराया जाता है तो अगले program को operating system द्वारा निर्धारित scheduling के अनुसार process करना होता है तो ऐसी स्थिति में running से ready state कार्य करता है।

PDF Notes Operating System PDF Notes Download Download PDF

Post a Comment

0 Comments

Youtube Channel Image
Rkonline | Learn Programming Language Subscribe To watch more Blogging Tutorials
Subscribe