What is project management in software engineering ? | Software Engineering in hindi

What is Software Project management ?

project management software विकास की पूरी प्रक्रिया को कहा जाता है। Project management किसी उद्देश्य प्राप्ति के लिए परिभाषित अनेक operation का समूह होता है, जसका उद्देश्य एक निश्चित् समय पश्चात् एक software product को प्राप्त करना होता है। दूसरे शब्दो में कहे तो यह एक कला और विज्ञान है जिसके द्वारा software project बनया जा सकता है।

किसी software project को तभी अच्छा project माना जायेगा जब उसमें निम्न गुण होः

i) Project के लिए समय, पैसा, समाग्री और बैंको loan इत्यादि कि आवश्यकता होती है।

ii) Project के लिए एक समय सीमा का होना आवश्यक होता है यह निर्धारित होना चाहिए कि उसे कम आरंभ करना है और कब समाप्त करना है।

iii) उस project को प्रतिदिन किये जाने वाले कार्य की तरह नहीं लेना चाहिए, यह एक daly routine में किया जाने वाला कार्य नहीं है यह एक process है जिसे निर्धारित समय में समाप्त करना होता है।

iv) Project एक लक्ष्य प्राप्ति के लिए होता है जब निर्धारित लक्ष्य प्राप्त हो जाता है तो project बंद हो जाता है इसलिए कहा जा सकता है कि project की एक उम्र होती है उम्र के समाप्त हो जाने के पश्चात् उस project पर कार्य बंद हो जाता है।

Why need project management:

कुछ ऐसी स्थिति भी होती है जब कोई software project बनया जा रहा हो और वह कामयाब न हुआ हो, इसे software failer कहते हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह सभी प्रकार से उस project का management नहीं किया जाना होता है। कुछ निम्न कारण होते हैं जिससे software project fail हो जाते हैं:

  1. Project में अंतिम उपयोगकर्ता की बहुत कम भागीदारी का होना।
  2. Project के लिए आवश्यक संसाधनों का सही सही अनुमान न लगा पाना ।
  3. Project के progress status के विषय में सही प्रकार से जानकारी का न होना।
  4. System की आवश्यकताओं और specification को सही प्रकार से परिभाषित न करना ।
  5. Customer an end-user, developer site project manager के बीच अच्छा संबंध या अच्छा communication का नहीं होना ।
  6. जो project तैयार किया जा रहा है उसके लिए सही प्रकार से लक्ष्य का निर्धारण न किया जाना अर्थात् project लक्ष्य का अवास्तविक या अनिर्दिष्ट होना ।
  7. ऐसे staff और तकनीक का उपयोग किया जाना जो कार्यकुशल और परिपक्व नहीं है।
  8. Project के complexity को संभालने में असमर्थ होना।

Project management task:

किसी project के असफल होने का कारण समय, लागत, तकनीक, complexity इत्यादि का सही-सही अनुमान न लगा पाना होता है इसलिए project manage करने की एक प्रक्रिया होती है यदि उन्हें न किया जाए तो project fail हो जायेगाः 

Project Planning:

इस task में project के लिए सभी प्रकार की आवश्यकताओं की planning की जाती है यह देखा जाता है कि project के आरंभ से लेकर अंत तक कितना समय, पैसा और संसाधनो की आवश्यकता होगी।

Project Estimation:

इसमें project में लगने वाले तत्व जैसे: time, effort, software size, cost इत्यदि का मूल्यांकन किया जाता है और उसके अनुसार project की समय सीमा और लागत का निर्धारण किया जाता है।

Project Scheduling and Management:

manage किसी भी प्रकार की सिस्टम तैयार करने से पहले उसके विकास के संबंध में planning किया जाता है तथा उसको करने का कार्य पूरे टीम का होता है । 

अतः प्रत्येक सिस्टम के विकास में proper planning और management आवश्यक होता है। project की सफलता के लिए Project management बहुत ही आवश्यक है। Project fail तभी होता है। जब proper management ठीक तरह से नहीं किया जाता है। System के असफल होने के निम्न कारण हैं:

  1. Inexperienced project leader
  2. Delays in implementation etc.
  3. Incorrect design
  4. Poorly motivation project team
  5. Cost overruns
  6. Poor project management technologies

Project management के अंतर्गत निम्न functions आते हैं:

  • Project को निश्चित definition के साथ एक से अधिक भागों में बांटना ।
  • कार्यों का management करना।
  • प्रत्येक कार्यों और पहलू के लिए आवश्यक resource का योजना बनाना ।
  • प्रत्येक member के लिए project team में आवश्यक कार्यो का बंटवारा करना ।
  • Project status और resources को database में Manage करना ।
  • Project plan को विस्तार से परिभाषित करना। 
  • Project progress को प्रतिदिन के कार्यों के अनुसार देखते रहना।
  • Project का नियमित documentation करना ।

उपरोक्त कार्यों को करने के लिए MIS manager or Project leader के द्वारा कई प्रकार की विधियां प्रयोग में लायी जाती है। जिसके लिए अलग-अलग प्रकार की tools का उपयोग किया जाता है। किसी सिस्टम के विकास के लिए प्लानिंग करना बहुत ही आवश्यक होता है। 

इसके अंतर्गत कई प्रकार के कार्य सम्मिलित होते हैं। विकास कार्य के समय यह आवश्यक होता है कि project leader अपने टीम को अच्छी तरह से motivate करे। जब SRS (Software Requirement Specification) document पूर्ण हो जाता है तब planning करना start करते हैं।

System planning के दौरान विभिन्न प्रकार की activities perform किये जाते हैं, जिनमें से कुछ निम्नलिखित हैं:

  1. Cost estimation
  2. Scheduling of project
  3. Staff requirement
  4. Organizing the project team
  5. Quality Assurance Plans
  6. Project monitoring Plans
  7. Risk Management.

Project Management tools:

Project से संबंधित सभी आवश्यकताए मौजुद हो तो भी वह सफल होगा, यह नहीं कहा जा सकता कई बार project की असफलता का कारण सही management tools का उपयोग नहीं होना होता है। इसलिए कुछ tools है जिनका उपयोग किसी project में करके project को बेहतर तरीके से manage कर सकते।

Read Also - WHAT IS DESIGN ENGINEERING AND DESIGN PROCESS IN SOFTWARE ENGINEERING

Resource table:

किसी project के किस विभाग में कितने कुशल कर्मचारियों की आवश्यकता होगी, इसका अनुमान लगाने के लिए निम्न प्रकार table बना सकते हैं:

resource table of project managements

इस tools से प्रतिदिन project के अलग-अलग कार्यों में कितने व्यक्ति कार्य कर रहे है इसका अनुमान लगया जाता है। इसमें प्रत्येक कार्य के पीछे कितना कर्मचारियों की लागत आ रही है इसका सही अनुमान लगा सकते हैं। इस table के अधार पर निम्न प्रकार pie chart बनाकर आकलन को और स्पष्ट कर सकते हैं:

pi chart in software engineering

Gantt Chart:

किसी pie chart की तरह ही इस chart के माध्यम से कार्य में लगे व्यक्तियों के लिए निर्धारित समय को देख सकते हैं यह कुछ निम्न प्रकार होता है :

gantt chart in software engineering

इनमे से यह निर्धारित होता है कि प्रोजेक्ट्किस project के किस विभाग के employee को कितने दिनों का समय देना है ।


PDF Notes Software Project Management in Software Engineering in Hindi Download PDF Download PDF

Post a Comment

1 Comments

Ramkrishna Sahu said…
Keep Learning Bro...!🙏