Layered Technology in Software Engineering | Hindi PDF Notes

What Is Layered Technology in Software Engineering?

Software का विकास पूरी तरह layered technology पर अधारित होता है अर्थात् software को तैयार करते समय आगे बढ़तेहुए एक layer से दूसरे में move करते हैं, जिसमें प्रत्येक layer के लिए अलग-अलग प्रकार के कार्य निर्धारित होते हैं जिन्हें पूर्ण करने के पश्चात् अगले layer में जाते हैं। एक विशेष प्रकार के कार्यों को किया जाता है। Software development निम्न चार layer से होकर गुजरता है:

Layeed Technology in Software Engineering
Layeed Technology in Software Engineering

i) A Quality focus:

Software engineering में गुणवत्ता लाने के लिए प्रतिबद्धताbहोने चाहिए। इसमें पूर्ण गुणवत्ता प्रबंधन और एक समान दृष्टिकोण से सुधार की प्रकृति विकसित होती है। साथ ही इसमें software engineering के लिए अधिक परिपक्च दृष्टिकोण का विकास किया जाता है। Quality focus, software engineering का समर्थन का आधार बिंदु होता है।

ii) Process :

Process, software engineering के लिए नीव/आधार की तरह होता है। Software engineering इसी layer के आस-पास अन्य layer का निर्माण करता है। यह software project के प्रबंधन नियंत्रण का अधार होता है।

iii) Process :

इसमें software engineering एक तकनीकी प्रश्न उपलब्ध कराता है अर्थात् क्यों software को बनाया जा रहा है। इसमें संचार कि आवश्यकता का विश्लेषण, प्रोग्राम का निर्माण, design modeling एवं support शामिल होते हैं।

(iv) Tools:

यह process और method को automated एवं semi-automated support उपलब्ध कराता है। इसमें tools को एकीकृत किया जाता है ताकि एक उपकरण द्वारा बनाई गई जानकारियों को दूसरे में उपयोग किया जा सके।

What are the 4 stages of layered technology?

Software Engineering 4 stage में complete होता है, जो Tools, Methods, Process and A Quality Focus होता है ।

Read AlsoWhat is Scrollbar And Mouse Hover? | Difference Between Scroll And Hover

What Are The Different Layers In Software?

  1. Presentation जैसे Layer को UI layer के रूप में भी जाना जाता है। 
  2. एक service layer एक अनुप्रयोग परत है। 
  3. व्यावसायिक तर्क की layer (व्यवसाय या आयन परत)
  4.  Data Access Layer की परत 4 जिसे दृढ़ता परत के रूप में जाना जाता है। 

What Are Layers Of Software?

  1. Operating System.
  2. Input/Output.
  3. Internet of Things.
  4. Embedded Systems.
  5. Intranets.
  6. Application Programming Interface.
  7. Hypervisors.
  8. Middleware.

What Are The Three Layers Of Software Engineering?

इनमें से प्रत्येक परत में तीन परतें होती हैं: Service Layer, Component Layer and Modual Layer. आप आमतौर पर इसकी प्रत्येक परत की प्रोग्रामिंग शैली बता सकते हैं। JADE Architecture जैसे Tool पर Java आधारित सॉफ़्टवेयर एजेंट आपको आसानी से सर्विस लेयर बनाने की अनुमति देते हैं।

PDF Notes Layered Technology in Software Engineering Download

Post a Comment

0 Comments